उत्तराखंड मुख्यमंत्री आँचल अमृत योजना 2019 | UttaraKhand Mukhyamantri Anchal Amrit Yojana in hindi

उत्तराखंड मुख्यमंत्री आँचल अमृत योजना 2019-20 (UttaraKhand Mukhyamantri Anchal Amrit Yojana in hindi – Free Milk Scheme For Children in Anganwadi Kendras)   

उत्तराखंड में हुये सर्वे के अनुसार राज्य में मौजूद कुल बच्चों में से लगभग 18000 बच्चे अब भी कुपोषण का शिकार है. बच्चे ही देश का भविष्य है और देश में इनका स्वस्थ रहना बहुत आवश्यक है. उत्तराखंड सरकार ने भी अपने राज्य में मौजूद इस समस्या को गंभीरता से लेते हुये अभी हाल ही में मुख्यमंत्री आँचल अमृत योजना का शुभारंभ किया है. इस योजना के तहत बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्रों में मुफ्त दूध का वितरण किया जाएगा, ताकि उन्हे उचित पोषण मिले और वे स्वस्थ्य रह सके.

UttaraKhand Mukhyamantri Anchal Amrit Yojana

उत्तराखंड मुख्यमंत्री आँचल अमृत योजना लॉंच डीटेल (Uttarakhand Mukhyamantri Anchal Amrit Yojana Launch Detail) –  

सिरियल नंबर परिचय बिन्दु विवेचन
1 योजना का नाम (Scheme Name) उत्तराखंड मुख्यमंत्री आँचल अमृत योजना – 2019
2 लॉंच डेट (Launched Date) मार्च 2019
3 किसके द्वारा लॉंच की गई (Launched By) उत्तराखंड मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी के द्वारा
4 लाभार्थी (Beneficiaries) राज्य में आंगनबाड़ी केंद्रों में पढ़ने वाले 3 से 6 वर्ष के बच्चे
5 कुल लाभार्थी (Total Beneficiaries) राज्य के लगभग 2.5 लाख बच्चे

मुख्यमंत्री आँचल अमृत योजना का उद्देश्य (Mukhymantri Anchal Amrit Yojana’s Objective)

इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में आंगनबाड़ी में पढ़ रहे बच्चों को हर सप्ताह मुफ्त में दूध उपलब्ध कराना है, ताकि उन्हे उचित पोषण प्राप्त हो सके. इस योजना को लागू करने का सरकार का मुख्य उद्देश्य राज्य से कुपोषण की समस्या को जड़ से खतम करना है.

उत्तराखंड मुख्यमंत्री आँचल अमृत योजना के मुख्य बिन्दु (Uttarakhand Mukhyamantri Anchal Amrit Yojana Key Features)

  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य मे मौजूद लगभग 20 हजार आंगनबाड़ी केंद्रो में पढ़ रहे 2 से 2.5 लाख बच्चों को मुफ्त दूध उपलब्ध कराकर उन्हे स्वस्थ बनाना है.
  • मुख्यमंत्री आँचल योजना के तहत आंगनबाड़ी में पढ़ रहे बच्चों को सप्ताह में दो बार दूध दिया जाएगा. इन बच्चों को हर बार 100 मिलीग्राम दूध दिया जाएगा, इस तरह से एक सप्ताह में एक बच्चे को 200 ग्राम दूध दिया जाएगा.
  • बच्चों को दूध उपलब्ध कराने के लिए सरकार की तरफ से आंगनबाड़ी केंद्रो में फ्लेवर्ड मिल्क पाउडर दिया जाएगा, जिससे की हर हफ्ते बिना किसी समस्या के बच्चों को दूध उपलब्ध हो सके.

लाभार्थी और उनकी आवश्यक योग्यता (Beneficiaries And Their Eligibility)–

  • उत्तराखंड राज्य में मौजूद हर आंगनबाड़ी में यह सुविधा उपलब्ध होगी. अगर आपके बच्चे का नाम आंगनबाड़ी केंद्र में रजिस्टर है तो उसे हर हफ्ते में दो बार दूध स्वतः ही दिया जाएगा.
  • यह योजना राज्य सरकार द्वारा राज्य में मौजूद 3 से 6 वर्ष के बच्चों के लिए है, इसलिए आंगनबाड़ी में पढ़ रहे 3 से 6 वर्ष के बच्चे इस योजना का लाभ लेने के लिए पात्र होंगे.

मुख्यमंत्री आँचल अमृत योजना का लाभ कैसे ले (How to Take Benefit Of Mukhyamantri Anchal Amrit Yojana) –

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको अपने बच्चों को आंगनबाड़ी में प्रवेश दिलवाना होगा. अगर आपका बच्चा रोज आंगनबाड़ी जाएगा, तो उसे निश्चित दिन स्वतः ही दूध दिया जाएगा, जिससे उसे आवश्यक पोषण मिलेगा.

सरकार का उद्देश्य प्रदेश से कुपोषण की समस्या को दूर करने का है, परंतु अकेले सरकार के चाहने से कुछ नहीं होगा. जब तक आप अपने बच्चों को आंगनबाड़ी में दाखिला नहीं दिलवाएंगे उन्हे रोजाना आंगनबाड़ी केंद्रो पर नहीं भेजेंगे उनके पोषण के साथ उनका विकास भी अधूरा रहेगा.

Other links –

Leave a Comment