राजस्थान तारबंदी योजना आवेदन फॉर्म |Rajasthan Tarbandi Yojana in Hindi

राजस्थान तारबंदी योजना आवेदन फॉर्म 2019 (Rajasthan Tarbandi Yojana in Hindi) [Application Form, Eligibility Criteria, Documents List]

आजकल भारत में हर राज्य में सरकार किसानों की और विशेष ध्यान दे रही है, इसी कड़ी में इस साल राजस्थान सरकार ने भी अपने राज्य में किसानों की ओर ध्यान देते हुये उनके लिए तारबंदी नाम से एक योजना लेकर आई है. इस योजना के द्वारा सरकार किसानों को उनके खेतों में लगी फसलों को जंगली जानवरो से सुरक्षित करने के लिए फैसिंग लगवाने के उद्देश्य से सब्सिडी प्रदान करेगी.

rajasthan tarabandi yojana

राजस्थान तारबंदी योजना मुख्य बिन्दु (Rajasthan Tarbandi Yojana Key Features) –

  • इस योजना को लागू करने के लिए सरकार का मुख्य उद्देश्य छोटे किसान जो कि अधिक खर्च के कारण अपने खेतों मे तारबंदी करने में असमर्थ होते है उन्हे वित्तीय सहायता देकर उनके खेतों को सुरक्षित करना है.
  • खेतों में तारबंदी हो जाने से किसानों की फसल सुरक्षित रहेगी और उनका उत्पादन बढ़ेगा . इसी के साथ पूरे प्रदेश में भी फसलों के उत्पादन में वृद्धि आएगी.
  • इस योजना के तहत किसान 50 प्रतिशत तक की सब्सिडी ले सकते है. और इसके अंतर्गत सरकार द्वारा 40,000 तक की सहायता मिल सकेगी.
  • इस योजना के लिए प्रदेश सरकार द्वारा 800 करोड़ 59 लाख का बजट पास किया है, जिससे किसान जल्द से जल्द इस सुविधा का लाभ ले सके.

राजस्थान तारबंदी योजना के लिए पात्रता (Eligibility Criteria) –

  • इस योजना का लाभ लघु सीमांत कृषको को ही दिया जाएगा. एक कृषक को लगभग 400 मीटर जमीन में तारबंदी के लिए अनुदान दिया जाएगा, और इससे कम दूरी के लिए भी किसान गणना करके उस हिसाब से लाभ ले सकेंगे.
  • इस लाभ को लेने के लिए किसान के पास राजस्थान में 0.5 हेक्टेयर सिंचित भूमि होना अनिवार्य है .
  • योजना का लाभ लेने के लिए उसे राजस्थान का रहवासी होना भी अनिवार्य है.
  • अगर कोई किसान पहले से किसी सरकारी योजना का लाभार्थी है तो वह इस योजना के लिए अयोग्य होगा.
  • इस योजना के लिए लाभार्थी का बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है क्योंकि इस योजना के तहत मिलने वाली राशि सीधे किसान के लिंक बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाएगी.

राजस्थान तारबंदी योजना आवश्यक दस्तावेज़ (Required Document) –

इस योजना का लाभ लेने के लिए किसान के पास स्वयं का आधार कार्ड, राशन कार्ड और जमीन कि जमाबंदी के कागजाद होना आवश्यक है. इन दस्तावेजो के अभाव में किसान यह सब्सिडी नहीं ले पाएगा.

राजस्थान तारबंदी योजना में ऑफ लाइन आवेदन कैसे करें (Application Form Offline Process) –

  • इस योजना के अंतर्गत ऑफलाइन आवेदन के लिए किसान को अपने नजदीकी समान्य सेवा केंद्र पर जाकर वहाँ से यह फॉर्म प्राप्त करना होगा. जब समान्य सेवा केंद्र से आपको यह फॉर्म डाउनलोड होकर मिलेगा तो आपको इसे पूर्ण भरकर इसके साथ आवश्यक दस्तावेज़ केंद्र में ही जमा करवाने होंगे.
  • अब केंद्र द्वारा इस फॉर्म को ऑनलाइन भरा जाएगा और इसके द्वारा दिये गए दस्तावेजो को स्कैन करके फॉर्म के साथ अपलोड कर दिया जाएगा. इस प्रक्रिया के पूर्ण होने के बाद केंद्र द्वारा किसान को रसीद भी प्रदान की जाएगी.
  • इसके बाद संबंधित कार्यालय द्वारा आवेदन पत्र कलेक्ट किए जाएंगे और उनकी स्थिति की जानकारी से किसानों को अवगत कराया जाएगा.

अन्य महत्वपूर्ण बातें (Other Important Information, Guideline) –

  • आवेदक को मूल दस्तावेजो को पोस्ट ऑफिस से या खुद कृषि विभाग के संबंधित कार्यालय में भिजवाना होगा, और उसे इसकी रसीद भी दी जाएगी.
  • इन दस्तावेजो को आवेदन के 30 दिनो के अंदर संबंधित कार्यालय में भिजवाना अनिवार्य है अन्यथा आपका आवेदन रद्द हो जाएगा.
  • यदि कृषक के पास पिता की जमीन के नामांतरण के कागजात नहीं है और उसकी जमीन स्वयं के नाम पर नहीं है तो वह पटवारी से नोशनल शेयर धारक का प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर सकता है और अनुदान ले सकता है.
  • अगर किसान समर्थ नहीं है और वह बैंक से लोन लेकर अपने खेत में तारबंदी करवाता है तब भी वह इस अनुदान के लिए पात्र होगा.
  • इस अनुदान के लिए किसान को जमाबंदी की कॉपी भी जमा करवानी होगी जो कि 6 महीनों से ज्यादा पुरानी नहीं होनी चाहिए.
  • इसके अतिरिक्त एक बार तारबंदी हो जाने के बाद उसके रख रखाव और किसी भी प्रकार की आवश्यकता पढ़ने पर मरम्मत की ज़िम्मेदारी स्वयं किसान की होगी. और इन तारो में किसी भी प्रकार से बिजली का प्रवाह कर जंगली जानवरो को नुकसान पंहुचाने का हक किसान को नहीं होगा.

राजस्थान सरकार द्वारा दी जाने वाली इस सुविधा से छोटे किसानों को बहुत लाभ मिलेगा और वे अपने खेत में तारबंदी करवाकर फसलों की सुरक्षा कर पाएंगे और अधिक लाभ ले पाएंगे.

Other links –

Leave a Comment